IND vs WI T20: वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टी20 में 4 रनो से हारा भारत, जेसन होल्डर की खतरनाक गेंदबाजी,

0
16
Advertisement

Advertisement

भारत और वेस्टइंडीज के बीच पांच टी20 मैचों की शुरुआत गुरुवार (तीन अगस्त) को हुई। 5 मैचों की इस टी20 सीरीज का पहला मुकाबला त्रिनिदाद के ब्रायन लारा स्टेडियम में खेला गया, जिसमें विंडीज टीम ने 4 रनों से मैच को अपने नाम किया।इस जीत के साथ ही मेजबान टीम ने सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली। इससे पहले टीम इंडिया दो मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 और तीन वनडे मैचों की सीरीज में 2-1 से जीती थी।

150 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम एक समय मैच में अपनी पकड़ को काफी मजबूत किए हुए थी, लेकिन पारी के 16वें ओवर कप्तान हार्दिक और संजू सैमसन के पवेलियन लौटने से मैच पूरी तरह से पलट गया.

भारतीय टीम को इस मैच के आखिरी ओवर में जीत के लिए 10 रनों की दरकार थी. लेकिन पहली ही गेंद पर कुलदीप यादव पवेलियन लौट गए, इसके बाद दूसरे गेंद पर चहल ने 1 रन लेकर अर्शदीप सिंह को स्ट्राइक दे दी. तीसरी गेंद पर 2 रन आने से भारत को आखिरी 3 गेंदों पर 7 रनों की दरकार थी, लेकिन चौथी गेंद डॉट हो गई. 5वीं गेंद पर 1 रन आने के साथ अर्शदीप सिंह रन हो गए. आखिरी गेंद पर भारत को 6 रन जीतने के लिए चाहिए थे, आखिरी गेंद पर 1 रन आने के साथ वेस्टइंडीज ने मैच को 4 रनों से अपने नाम किया.

भारतीय टीम की खराब शुरुआत, सूर्या और तिलक ने संभाला

150 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं हुई. टीम 5 के स्कोर पर पहला झटका शुभमन गिल के रूप में लगा. वहीं इसके बाद 28 के स्कोर पर ईशान किशन भी 6 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. यहां से सूर्यकुमार यादव और तिलक वर्मा ने भारतीय पारी को संभालते हुए पहले 6 ओवरों में स्कोर को 45 रनों तक पहुंचाया.

सूर्यकुमार यादव और तिलक वर्मा के बीच तीसरे विकेट के लिए 39 रनों की साझेदारी देखने को मिली. सूर्या इस मैच में 21 गेंदों में 21 रनों की पारी खेलने के बाद पवेलियन लौटे. भारतीय टीम ने 67 के स्कोर पर अपना तीसरा विकेट गंवाया था.

जेसन होल्डर के ओवर ने पलट दिया पूरा मैच

तीसरा विकेट हासिल करने के बाद वेस्टइंडीज की टीम ने भारत को 77 के स्कोर पर चौथा झटका तिलक वर्मा के रूप में दिया. इसके बाद कप्तान हार्दिक पांड्या और संजू सैमसन के बीच में 5वें विकेट के लिए 36 रनों की साझेदारी देखने को मिली. दोनों ने भारतीय टीम की जीत को इस मुकाबले में लगभग पक्का कर दिया था, लेकिन जेसन होल्डर के एक ओवर ने मैच का पूरा रुख बदलकर रख दिया.

भारतीय पारी के 16वें ओवर में जेसन होल्डर ने हार्दिक पांड्या को 19 के निजी स्कोर पर बोल्ड करते हुए एक बड़ी सफलता दिलाई. इसके बाद इसी ओवर की तीसरी गेंद पर संजू सैमसन रन आउट होकर पवेलियन लौट गए. इससे अचानक भारतीय टीम का स्कोर 113 रन पर 6 विकेट हो गया.

अक्षर ने की कोशिश लेकिन विंडीज गेंदबाजों ने नहीं होने दिया सफल

संजू सैमसन और कप्तान हार्दिक के पवेलियन लौटने के साथ सभी की नजरें अक्षर पटेल पर टिकी हुई थी. अक्षर ने टीम को जीत दिलाने की कोशिश की लेकिन वह भी 11 गेंदों में 13 रनों की पारी खेलने के बाद पवेलियन लौट गए. भारतीय टीम 20 ओवरों में 9 विकेट के नुकसान पर 145 के स्कोर तक पहुंचने में कामयाब हो सकी. वेस्टइंडीज की तरफ से गेंदबाजी में रोमारियो शेफर्ड, ओबेद मैकॉय और जेसन होल्डर ने 2-2 विकेट हासिल किए. इसके अलावा अकील हुसेन के खाते में भी 1 विकेट आया.

वेस्टइंडीज की पारी में दिखा कप्तान पॉवेल और पूरन के बल्ले का कमाल

इस मुकाबले में वेस्टइंडीज की पारी को लेकर बात की जाए तो उसमें कप्तान रोवमन पॉवेल और निकोलस पूरन के बल्ले का कमाल देखने को मिला. पॉवेल ने जहां 48 रनों की पारी खेली वहीं पूरन ने भी 41 रन बनाए. इसके अलावा वेस्टइंडीज की तरफ से ब्रैंडन किंग ने भी 28 रन बनाए. भारत की तरफ से गेंदबाजी में अर्शदीप सिंह और युजवेंद्र चहल ने 2-2 विकेट हासिल किए.

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here