महिलाओं को घर से बाहर जाते समय सजग रहना और दिमाग का इस्तेमाल ज्यादा करना चाहिए : पूर्व जिला जज

0
34
Advertisement

बाराबंकी। जहांगीराबाद इंस्टीट्यूट आफ टेक्नॉलाजी, जहांगीराबाद, बाराबंकी में अरविन्द कुमार पाण्डेय पूर्व जिला जज भागलपुर, बिहार व श्रीमती नाजनीन बानो अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश@सचिव के द्वारा मां सरस्वती जी की प्रतिमा पर दीप प्रज्ववलन कर महिलाओं के संरक्षण कानून पर शिविर का आयोजन करते हुये एन०सी०डब्ल्यू० द्वारा प्रस्तावित कार्यक्रमों का शुभारम्भ किया गया।
अरविन्द कुमार पाण्डेय मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहते हुये महिलाओं को उनके अधिकारों के बारे में जागरूक किया गया। महिलाओं को उनके विवाह सम्बन्धी कानूनो एवं परिवार के सम्बन्ध में बताया गया कि वह किस प्रकार से अपने परिवार को टूटने से बचा सकती है और महिलाओं को कानून का दुरूपयोग नही करना चाहिए। हर उम्र की महिलाओं को घर से बाहर जाते समय सजग रहना चाहिए और घर से बाहर दिमाग का इस्तेमाल ज्यादा करना चाहिए एवं उनके द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं के प्रश्नों का उत्तर दिया गया।
उक्त शिविर में श्रीमती नाजनीन बानो द्वारा भारतीय दण्ड संहिता, दहेज प्रतिषेध अधिनियम, घरेलू हिंसा अधिनियम आदि के प्राविधानों के बारे में विस्तारपूर्वक बताया गया। सचिव ने बताया कि आजकल के दौर में महिलाओं को शिक्षित होने की जरूरत है। शिक्षा ही एक ऐसा माध्यम होता है जिसके द्वारा महिलाओं का सशक्तिकरण सुचारू रूप से हो सकता है। ए०डी०आर० की कार्यप्रणाली एवं राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, व तहसील विधिक सेवा समिति के बारे में बताया एवं महिलाओं को अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहने के लिए प्रेरित किया कि अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए। जब एक महिला स्वस्थ्य रहती है तो उसका पूरा परिवार भी स्वस्थ्य रहता है। उक्त शिविर में डॉ० कैलीपर कनौजिया ने महिलाओं को सरवाइकल कैंसर के बारे में जागरूक किया गया। उनके सरवाइकल कैंसर के प्रारम्भिक लक्षण एवं सरवाइकल कैंसर की टेस्टिंग एवं बचाव के बारे में विस्तार से बताया गया।
श्रीमती कुरैशा खातून, श्रीमती नमिता पंकज महिलाओं के साथ होने वाले यौन उत्पीड़न के बारे में, मातृत्व अधिनियम, समानता का अधिकार एवं समान वेतन के अधिकार के बारे में महिलाओं को जागरूक किया। रिसोर्स पर्सन के द्वारा बताया गया कि प्रत्येक महिला को समान कार्य के लिये पुरूष के बराबर वेतन पाने का अधिकार प्राप्त है। रिसोर्स पर्सन के द्वारा गर्भवस्था अधिनियम व पी०एन०डी०टी० अधिनियम के बारे में विस्तापूर्वक बताया गया। मेजर जनरल संदीप सिंह, डायरेक्टर, जहांगीराबाद इंस्टीट्यूट अॉफ टेक्नॉलाजी, जहांगीराबाद, बाराबंकी ने सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित कर कार्यक्रम का समापन करते हुये कहा गया कि उनके इस्टीट्यूट द्वारा महिलाओं की शिक्षा पर व्यापक प्रयास किये जा रहे है। इस अवसर पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ती, आशा बहूयें, जहांगीराबाद इंस्टीट्यूटआफ टेक्नॉलाजी, जहांगीराबाद के छात्र-छात्रायें एवं कर्मचारीगण तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कनिष्ठ लिपिक मो० सलमान व कार्यालय चपरासी मोहित कुमार वर्मा मौजूद रहे।

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here