डीएम की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई जिला स्तरीय शान्ति समिति की बैठक

0
2
Advertisement

बहराइच । मोहर्रम, श्रावण मास तथा कांवड़ यात्रा के अवसर पर कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से वृहस्पतिवार को देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला स्तरीय शान्ति समिति की बैठक में जिलाधिकारी मोनिका रानी ने मौजूद धर्मगुरूओं, गणमान्य व संभ्रान्तजन से अपील की कि सौहार्दपूर्ण वातावरण में पराम्परागत ढंग से आन्न त्यौहारों को मनायें। शान्ति व्यवस्था के सम्बन्ध में यदि कहीं से कोई भी सूचना प्राप्त हो तो उसे जिम्मेदार अधिकारियों के संज्ञान में अवश्य लाए।
डीएम व पुलिस अधीक्षक बृन्दा शुक्ला ने कहा कि जिले के अम्नो-अमान को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह से संजीदा है। माहौल खराब करने की कोशिश करने वालों से पूरी सख्ती के साथ निपटा जायेगा। डीएम व एसपी ने कहा कि उन्हें आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि सभी के सहयोग से पूर्व की भांति आगामी त्यौहार भी सौहार्दपूर्ण वातावरण में सम्पन्न होंगे। डीएम व एसपी ने कहा कि त्यौहारों के दौरान सभी लोग ऐसा आचरण रखें जिससे किसी दूसरे व्यक्ति को कोई आपत्ति न हो। जुलूसों के दौरान ध्वनिविस्तारक यंत्र का स्वर मा. उच्च न्यायालय द्वारा निर्धारित मानक के अनुसार हो। डीएम ने कहा कि त्यौहारों को सौहार्दपूर्ण वातावरण में शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए प्रशासन एक व्यवस्था देता है। त्यौहारों को सौहार्दपूर्ण वातावरण में शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने में असली भूमिका तो समाज के सम्भ्रान्तजनों की होती है।
डीएम ने विद्युत, नगर निकायों, जिला पंचायत राज विभाग को निर्देश दिया कि जुलूस मार्गों की आवश्यक मरम्मत, बिजली के ढीले तारों को ठीक कराने की कार्रवाई के साथ साथ साफ-सफाई, प्रकाश आदि के समुचित व्यवस्था समय से सुनिश्चित करा दें। उप जिलाधिकारी व पुलिस क्षेत्राधिकारियों को निर्देश दिये गये कि तहसील व सर्किल क्षेत्रान्तर्गत अर्न्तगत जुलूस मार्गों, साफ-सफाई विशेषकर धार्मिक स्थलों के आस-पास समुचित साफ-सफाई व चुनाकारी आदि का कार्य समय से करा दें।
 एसपी बृन्दा शुक्ला ने कहा कि त्यौहारों के दौरान गुड पुलिसिंग व्यवस्था रहेगी। संवेदनशील तथा अतिसंवेदनशील स्थानों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की तैनाती की जायेगी। त्यौहारों के दौरान शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के लिए पुलिस अधीक्षक ने सभी से सहयोग की अपेक्षा करते हुए पारम्परिक मार्गाे पर ही जुलूस का संचालन किये जाने की अपील की है।
बैठक के दौरान कुलभूषण आरोड़ा, बृजमोहन मातनहेलिया, दाऊ जी सोनी, जफर उल्लाह खां बन्टी, श्रीमती निशा शर्मा, परशुराम कुशवाहा, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष तेजे खां, कल्बे अब्बास, मो. मोईनुद्दीन कादरी, मोहम्मद आरिफ, दिलशाद अहमद, बच्चे भारती, वकील अहमद मिसबाही, प्रमुख प्रतिनिधि फखरपुर रणवीर सिंह सहित जिले के अन्य क्षेत्रों से आये हुए धर्मगुरूओं व संभ्रान्तजन द्वारा बिजली, पानी, साफ-सफाई के सम्बन्ध में महत्वपूर्ण सुझाव दिये गये। डीएम ने कहा कि बैठक में
बैठक का संचालन एडीएम गौरव रंजन श्रीवास्तव ने किया। इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक नगर रामानन्द कुशवाहा व ग्रामीण डॉ. पवित्र मोहन त्रिपाठी, नगर मजिस्टेªट शालिनी प्रभाकर, सीओ सिटी राजीव कुमार सिसोदिया, सीएमओ डॉ. राजेश कुमार, एसडीएम सदर राकेश कुमार मौर्या, कैसरगंज के पंकज दीक्षित, पयागपुर के दिनेश कुमार, एसडीएम मोतीपुर संजय कुमार, पुलिस क्षेत्राधिकारीगण, जिला स्तरीय अधिकारी, नगर निकायों के अधिशासी अधिकारी, धर्मगुरू व संभ्रान्तज सहित अन्य सम्बन्धित मौजूद रहे।

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here