उप मुख्यमंत्री जी ने विकास कार्याे, जनकल्याणकारी योजनाओं को लेकर अधिकारियों के साथ की समीक्षा

0
71
Advertisement

लखनऊ। आज बस सभागार हापुड़ में प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य प्रभारी मंत्री हापुड़ कपिल देव अग्रवाल एवं जनपदीय अधिकारियों के साथ विकास कार्याे, जनकल्याणकारी योजनाओं को लेकर समीक्षा कर रहे थें। उन्होंने कहा कि सरकार समाज के अन्तिम व्यक्ति को विकास की मुख्य धारा से जोड़ने के लिये प्रयत्नशील है। समीक्षा भ्रमण कर लाभार्थियों को सभी आवश्यक सुविधायें शासन की  मंशा के अनुसार पहुॅचाना सुनिश्चित करें।
उप मुख्यमंत्री ने विकास से सम्बन्धित सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि शासन की नीतियों के अनुसार विकासपरक योजनाओं को पूरी निष्ठा व ईमानदारी के साथ पात्र व्यक्तियों को लाभ दिलाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि पूरी सावधानी बरती जाये कि कोई भी पात्र व्यक्ति लाभ से वंचित न रहे। उन्होंने कहा कि जन शिकायतों को प्राथमिकता पर सुना जाये तथा समयबद्ध निस्तारण सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि यदि कोई जरूरतमंद उनके पास अपनी शिकायत लेकर आता है अथवा किसी जनप्रतिनिधि के माध्यम से कोई जन शिकायत प्राप्त होती है, तो सभी अधिकारी उसे पूरी गम्भीरता से लेते हुये पूरे सम्मान के साथ निस्तारण सुनिश्चित करें।
पेंशन योजना की समीक्षा के दौरान उप मुख्यमंत्री जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देशित किया कि जनपद के समस्त ग्रामों/वार्डाे में कैम्प लगाकर छुटे हुये पात्र लाभार्थियों को लाभान्वित किया जाये। निराश्रित गोवंशो को गौशालाओं में आश्रय देने हेतु मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया। उन्होंने जनपद में चारागाह की जो भी भूमि कब्जा की गयी है जिलाधिकारी राजस्व की टीम द्वारा भूमि को कब्जा मुक्त करायें। जिससे भूमि पर चारा आदि की व्यवस्था सुनिश्चित कर सके। छुट्टा जानवरों को गौ-आश्रय स्थलों में संरक्षित किया जाये। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होने मुख्य चिकित्साधिकारी से जनपद में संचालित सीएचसी, पीएचसी एवं हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। उप मुख्यमंत्री ने सीएमओ को निर्देशित किया कि हेल्थ एवं वेलनेस सेन्टर की समय-समय पर मानीटरिंग करते रहें और मरीजों को समय-समय पर दवायें मिल रही है या नही की जानकारी लेते रहे, हेल्थ एवं वेलनेस सेन्टर का ज्यादा से ज्यादा प्रचार-प्रसार करने को कहा।
विद्युत विभाग की समीक्षा के दौरान पाया गया कि उपभोक्ताओं द्वारा ज्यादा विद्युत बिल आने की शिकायतें की जाती है, जिस पर उप मुख्यमंत्री ने अधीक्षण अभियन्ता विद्युत को निर्देशित किया कि शिकायतों पर अंकुश लगाया जाये एवं खर्च के सापेक्ष विद्युत बिल की वसूली की जाये। उन्होंने शासन की मंशानुसार जनपद में खराब ट्रान्सफार्मर को 24 घण्टें में दुरूस्त कराया जायें। उन्होंने कहा कि किसानों के निजी नलकूपों के विद्युत बिलों में त्रुटि होने पर उसका जल्द से जल्द सुधारात्मक कार्यवाही कराना सुनिश्चित किया जाये। मंत्री जी ने उप निदेशक कृषि को निर्देशित किया की जनपद की तीनों विधान सभाओं में जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में कैम्प लगाकर सम्मान निधि से छूटे हुये किसानों को सम्मिलित किया जाये और हाल ही में हुई वर्षा तथा ओलावृष्टि को लेकर किसानों की फसलों का सर्वे कराकर नष्ट हुई फसलों का ब्यौरा जिलाधिकारी को प्रस्तुत करें। पीडित किसानों को मुआवजा दिलाने की कार्यवाही की जाये। यह कार्य लेखपालों के भरोसे न छोडा जायें। जल बर्बादी रोकने के लिये अभियान चलाकर आमजन को जागरूक किया जाये। उन्होंने सहायक श्रमायुक्त अधिकारी से कहा कि श्रमिकों के लिये अस्पताल, भोजन हेतु कैंटीन और उनके बच्चों की शिक्षा की उचित व्यवस्था करायें। गरीबों का शोषण न किया जाये। समाज कल्याण अधिकारी को निर्देशित किया कि विकास खण्डवार ग्राम चौपालों में आ रहे वृद्धावस्था पेंशन के आवेदनों को लेकर गम्भीरता बरतें। लापरवाह अधिकारियों पर कार्यवाही की जायेगी। सरकार की मंशा है कि अधिक से अधिक रोजगार सृजन हेतु प्रयासरत रहें। चिकित्सा और शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर प्रयास किये जायें। नवाचार में और अधिक प्रयास किये जायें। बैठक के अन्त में मंत्री जी ने कृषि विभाग, विकलांग कल्याण विभाग, जिला उद्योग के लाभार्थियों को ट्राई साइकिल, चेक व किट तथा सिलाई मशीन भी वितरित की। जिलाधिकारी ने उपमुख्यमंत्री जी को स्मृति चिन्ह भेंट किया और कहा कि आपके द्वारा दिये गये निर्देशों का अनुपालन शत् प्रतिशत किया जायेगा।
बैठक में राज्य सभा सांसद अनिल अग्रवाल, सांसद मेरठ लोकसभा राजेन्द्र अग्रवाल, विधायक सदर विजयपाल आढ़ती, धौलाना धर्मेश सिंह तोमर, गढ़मुक्तेश्वर हरेन्द्र तेवतिया, क्षेत्रीय अध्यक्ष सतेन्द्र शिशोदिया, विधान परिषद सदस्य धर्मेन्द्र भारद्वाज, जिला पंचायत अध्यक्ष रेखा नागर, जिला अध्यक्ष उमेश राणा, जिलाधिकारी प्रेरणा शर्मा, पुलिस अधिक्षक अभिषेक वर्मा, मुख्य विकास अधिकारी प्रेरणा सिंह, अपर जिलाधिकारी संदीप सिंह सहित समस्त उपजिलाधिकारी व जनपदीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here