जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बेसिक शिक्षा विभाग के कार्यों की समीक्षा बैठक संपन्न

0
15
Advertisement

शाहजहाँपुर। जिलाधिकारी उमेश प्रताप सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में बेसिक शिक्षा विभाग के कार्यों की समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कड़े निर्देश दिए कि परिषदीय विद्यालयों में बेहतर शिक्षण व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि सभी खंड शिक्षा अधिकारी नियमित रूप से विद्यालयों का निरीक्षण करें एवं अनुपस्थित मिलने वाले तथा शिक्षण कार्यों में लापरवाही करने वाले शिक्षकों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। एजेण्डा प्रस्तुत करते हुये जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी श्री कुमार गौरव ने बताया कि जनवरी से मार्च तक 751 शिक्षकों के वेतन कटौती की कार्यवाही की गयी, 13 शिक्षकों को प्रतिकूल प्रवष्टि दी गयी, 748 को चेतावनी जारी की गयी तथा 10 शिक्षकों को निलंबित भी किया गया है। इस प्रकार कुल 1522 के विरूद्ध कार्यवाही माह जनवरी से मार्च 2023 के दौरान की गयी।
जिलाधिकारी ने कहा कि जिस विकास खंड के प्रदर्शन सबसे खराब पाया जाये और उच्च स्तर से किए गए निरीक्षणों में अधिक शिक्षक अनुपस्थित पाए जाएं, वहां के खंड शिक्षा अधिकारी की जवाबदेही तय करते हुए खंड शिक्षा अधिकारी के विरुद्ध भी कार्यवाही की जाये। उन्होंने नगर क्षेत्र में सबसे खराब प्रदर्शन मिलने पर नगर शिक्षा अधिकारी के विरुद्ध कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए। लगातार अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों की सेवा समाप्त किए जाने हेतु भी निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी विद्यालयों में बेहतर स्वच्छता व्यवस्था सुनिश्चित की जाये तथा तथा जहां पर तैनात सफाई कर्मी नियमित रूप से विद्यालय न आते हों, उनकी आख्या तत्काल प्रेषित की जाये। उन्होने कहा कि सभी बच्चे नियमित रूप से निर्धारित ड्रेस में ही स्कूल में उपस्थित हो यह सुनिश्चित किया जाये। शिक्षा की गुणवत्ता के स्तर में सुधार हेतु कार्ययोजना बनाए जाने के निर्देश भी जिलाधिकारी ने दिये। उन्होने कस्तूरबागंाधी आवासीय बालिका विद्यालयो में सुरक्षा के दृष्टिगत भी आवश्यक निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने सभी को प्रेरित करते हुए कहा कि सभी का उद्देश्य होना चाहिए कि पढ़ाई में सबसे कमजोर बच्चे के शिक्षा के स्तर में सुधार किया जाये, इसके लिए सभी को सम्मिलित रूप से प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक क्षेत्रों में स्थित जर्जर विद्यालय की सूची प्रेषित की जाये, जिससे अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के द्वारा विद्यालय बनवाए जाने हेतु अग्रिम कार्यवाही की जा सके। कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय ददरौल में सुरक्षा के दृष्टिगत बाउंड्री वॉल का निर्माण मनरेगा के माध्यम से कराए जाने के निर्देश भी जिलाधिकारी ने दिए। जिलाधिकारी ने आपरेशन कायाकल्प के अंतर्गत विद्यालयों में कराए गए कार्यों की समीक्षा भी की।
बैठक के दौरान अपर जिलाधिकारी प्रशासन संजय कुमार पाण्डेय, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कुमार गौरव, जिला कार्यक्रम अधिकारी अरविन्द रस्तोगी सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here