जिलाधिकारी ने मिर्जापुर विकास खंड के ग्राम सिंगहा, यूसूफपुर में जन चैपाल लगाकर ग्रामीणों को दी लाभार्थीपरक योजनाओं की जानकारी

0
15
Advertisement

शाहजहाँपुर। जिलाधिकारी श्री उमेश प्रताप सिंह ने विकास खण्ड मिर्जापुर के गांव सिंगहा यूसुफपुर में जनचैपाल लगाकर ग्रामीणों को शासन द्वारा संचालित विभिन्न लाभार्थीपरक योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने ग्रामीणों की शिकायतों एवं समस्याओं को सुना तथा प्राप्त शिकायतो एवं समस्याओं का प्रभावी निस्तारण सुनिश्चित करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।
जिलाधिकारी ने ग्राम प्रधान, पंचायत सचिव व लेखपाल को निर्देशित करते हुए कहा कि सरकारी योजनाओं का पूर्ण लाभ जनता को मिले, यह सुनिश्चित किया जाये। शासन द्वारा संचालित योजनाओं का प्रचार प्रसार किये जाने के निर्देश भी जिलाधिकारी ने दिये। उन्होने ग्रामीणों को संस्थागत प्रसव हेतु प्रेरित करते हुये बताया कि संस्थागत प्रसव अधिक सुरक्षित होता है तथा प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना सहित अन्य कई योजनाओं का लाभ संस्थागत प्रसव एवं नियमित टीकाकरण कराने से प्राप्त हो सकता है। जिलाधिकारी ने गो सरक्षण के विषय में ग्रामीणों को प्रेरित करते हुए कहा कि किसी भी दशा में गायों को निराश्रित न छोड़े। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति गो आश्रय स्थलों से गायों को पालने के उद्देश्य से 4 गायें पालेगा उसके लिए कैटल शेड की व्यवस्था ग्राम्य विकास विभाग द्वारा की जायेगी। उन्होने विद्युत आपूर्ति रोस्टर के अनुसार कराये जाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने गांव में ट्रांसफार्मर की उपलब्धता, राशन वितरण, विद्यालय में पढ़ाई एवं मिड डे मील, ड्रेस की राशि का खाते में अंतरण, एएनएम/आशा के कार्यों आदि के संबंध में ग्रामीणों से फीडबैक लिया। जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री आवास योजना के विषय में ग्रामीणों को जानकारी देते हुए पात्रों के प्रस्ताव तत्काल तैयार कराए जाने के निर्देश भी दिए। इस दौरान जिलाधिकारी ने ग्रामीणों को शिकायते सुनकर उनके निस्तारण हेतु भी सबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया।

Advertisement

चैपाल के दौरान पुलिस अधीक्षक श्री एस. आनंद ने मिशन शक्ति कक्ष के विषय में जानकारी देते हुए बताया कि महिलाओं की समस्याओं के त्वरित निस्तारण हेतु गांव में स्थित पंचायत भवन में मिशन शक्ति कक्ष स्थापित किया गया है, जिसमे रोस्टर के अनुसार महिला बीट पुलिस अधिकारियों की तैनाती की गयी है। यदि किसी महिला को किसी भी प्रकार की समस्या है या थाना जाने में असमर्थ है तो गांव के पंचायत भवन में आने वाली विशेष महिला बीट पुलिस अधिकारियों को अवगत कराए उनकी समस्या का निस्तारण तत्काल प्रभाव से किया जाएगा। इसके अतिरिक्त इनसे अन्य सूचनाएं भी साझा की जा सकती है, जिस पर त्वरित कार्यवाही की जाएगी। पुलिस अधीक्षक ने महिला पुलिस बीट अधिकारी को भी ग्रामीणों के साथ समन्वय स्थापित करने हेतु निर्देशित किया, साथ ही उन्होंने गांव में स्थित प्राथमिक विद्यालय में भी बच्चों को सामान्य शिक्षा हेतु जागरूक करने के निर्देश दिए।
सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 आर के गौतम, उपजिलाधिकारी कलान श्री दुर्गेश कुमार , तहसीलदार श्री पैगाम हैदर, जिला समाज कल्याण अधिकारी श्री राजेश कुमार, जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी श्रीमती ज्ञान देवी,  जिला पूर्ति अधिकारी श्री ओम हरि उपाध्याय सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here