सड़कों के निर्माण से आवागमन की सुविधा के साथ ही प्रदेश की अर्थव्यवस्था होगी मजबूत -केशव प्रसाद मौर्य

0
19
Advertisement

उ0प्र0 के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने वाह्य सहायतित परियोजनाओं के अन्तर्गत विश्व बैंक एवं एशियन डेवलपमेन्ट बैंक से वित्त पोषित चालू परियोजनाओं के कार्यों में तेजी लाने के निर्देश लोक निर्माण विभाग के सम्बन्धित अधिकारियों को दिये हैं। विश्व बैंक से वित्त पोषित प्रथम चरण में निर्माणाधीन हमीरपुर-राठ मार्ग, गोला-शाहजहांपुर मार्ग और बदायुॅ-बिल्सी-बिजनौर मार्ग (कुल लम्बाई 211 किमी0) पूरा करने की समय-सीमा निर्धारित करते हुये निर्देश दिये हैं कि इन कार्यों को निर्धारित समय-सीमा के अन्दर हर हाल में पूरा किया जाय। हमीरपुर-राठ मार्ग को जून 2021 तक तथा गोला-शाहजहांपुर और बदायुॅ-बिल्सी-बिजनौर मार्ग को नवम्बर 2021 तक अनिवार्य रूप से पूरा करने के निर्देश दिये हैं।
गौरतलब है कि विश्व बैंक व एशियन डेवलपमेन्ट बैंक से वित्त पोषित परियोजनाओं में 70 प्रतिशत धनराशि विश्व बैंक/एशियन डेवलपमेन्ट बैंक के ऋण से तथा 30 प्रतिशत धनराशि प्रदेश सरकार द्वारा व्यय की जाती है। विश्व बैंक के साथ रू0 3700 करोड़ का ऋण अनुबन्ध अक्टूबर 2019 में हस्ताक्षरित किया जा चुका है। इस परियोजना में रू0 3100 करोड़ राज्य मार्गों के उच्चीकरण हेतु रखा गया है, जिसमें 4 कार्य प्रथम चरण में लिये गये हैं, जिनमें एक कार्य पूरा हो गया है तथा शेष 3 परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है।
उपमुख्यमंत्री श्री मौर्य ने द्वितीय चरण के अन्तर्गत 6 राज्य मार्गों (लम्बाई 260 किमी0) के डी0पी0आर0 को प्राथमिकता पर गठित कराकर इसी वित्तीय वर्ष में स्वीकृत कराये जाने के निर्देश लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को दिये हैं। इन 6 परियोजनाओं के अन्तर्गत हमीरपुर-राठ-गुरसराय-झांसी मार्ग (35 किमी0), मोरादाबाद-हरिद्वार-देहरादून राज्य मार्ग (36 किमी0), गढ़-सयाना-बुलन्दशहर राज्य मार्ग (49.50 किमी0), बहराईच-गोण्डा-फैजाबाद राज्य मार्ग (60.10 किमी0), जनपद गौतमबुद्ध नगर में हामिदपुर-कुचेसर राज्य मार्ग (47.50 किमी0) तथा जनपद संतकबीर नगर में बांसी-मेहदावल-खलीलाबाद राज्य मार्ग (32 किमी0) विश्व बैंक द्वितीय चरण के प्रस्तावित कार्य हैं। विश्व बैंक/एशियन डेवलपमेन्ट बैंक सहायतित परियोजनाओं में रू0 228 करोड़ का प्राविधान राज्य मार्गों पर सड़क सुरक्षा कार्यों हेतु किया गया है। उपमुख्यमंत्री ने राज्य मार्गों का सड़क सुरक्षा आॅडिट कराकर जंक्शनों के सुधार कार्य, स्पीड टेबिल का निर्माण, उंचे तटबन्धों पर क्रैशबीम बैरियर आदि लगाये जाने के निर्देश दिये हैं।

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here