क्लोज़ सर्किट टीवी कैमरों की निगरानी में रहेगा दरगाह मेला परिसर

0
5
Advertisement

बहराइच । सै. सालार मसऊद गाज़ी रह. की दरगाह पर 30 मई से 30 जून 2024 तक एक माह की अवधि तक चलने वाले वार्षिक जेठ मेला-2024 को सकुशल सम्पन्न कराये जाने के लिए कानून एवं शान्ति व्यवस्था तथा अन्य व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक के दौरान जिलाधिकारी मोनिका रानी ने जिला प्रशासन और दरगाह प्रबन्ध समिति के सदस्यों को बेहतर तालमेल के साथ कार्य कर समय से पूर्व ऐसी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि श्रद्धालुओं/मेलार्थियों को कोई असुविधा न हो। शुष्क मौसम को देखते हुए मेला क्षेत्र में स्वच्छ पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था के लिए नगर पालिका परिषद व जल निगम को निर्देश दिया गया कि संयुक्त रूप से मेला परिसर में उपलब्ध संसाधनों का सत्यापन कर यह सुनिश्चित करें कि सभी इण्डिया मार्का-टू हैण्डपम्प व स्टैमपोस्ट चालू हालत में हों।
मेला क्षेत्र में आग की घटनाओं के प्रभावी नियंत्रण के लिए जिलाधिकारी ने प्रबन्ध समिति को निर्देश दिया कि मेलार्थियों से अपील की जाय कि वह गैस सिलेण्डर के साथ मेले में न आयें और सभी दुकानदार बालू बकेट व पानी की बाल्टी ज़रूर रखेंगे। अग्निशमन विभाग को निर्देश दिया कि आग की दुर्घटना को नगण्य किये जाने के उद्देश्य से पूरे मेला परिक्षेत्र का भ्रमण कर यह सुनिश्चित करें कि सभी हाइडेन्ट चालू हालत में हों। विद्युत विभाग को निर्देशित किया गया कि मेला क्षेत्र में विद्युत का कोई वायर, पोल झूलता हुआ न रहेे, इलेक्ट्रिकल मानकों का परीक्षण फुल प्रूफ व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाय। सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि सुरक्षा मानकों का अनुपालन कराने के उपरान्त ही सेफ्टी प्रमाण-पत्र जारी किये जायें।  
डीएम ने पुलिस व परिवहन विभाग के अधिकारियों को जॉच अभियान संचालित कर ज्वलनशील पदार्थों के मेला परिसर में लाने पर प्रभावी अंकुश लगाने का निर्देश दिया। मेलार्थियों से ज्यादा मुनाफा वसूली न की जा सके इसके लिए डी.एम. ने रेट लिस्ट प्रदर्शित किये जाने तथा खाद्य पदार्थों की क्वालिटी चेक करने के लिए खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन को मेला अवधि में नियमित रूप से सैम्पुलिंग करने का भी निर्देश दिया। डीपीआरओ को निर्देश दिये गये कि चित्तौरा व अनारकली झील की पर्याप्त साफ-सफाई करा दी जाय। डीएम ने पुलिस प्रशासन को निर्देश दिया कि मेले में आने वाले वाहनों के समुचित पार्किंग के साथ-साथ सुरक्षा व्यवस्था के कड़े प्रबन्ध किये जाय विशेषकर महिलाओं व बाल अपराध पर अंकुश के लिए मेला क्षेत्र के भीड़-भाड़ वाले स्थलों, मेला क्षेत्र के प्रमुख मार्गो पर सीसीटीवी कैमरो की नियमित मानीटरिंग की जाय। इसके अलावा सभी प्रकार के वाहनों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए भी उचित प्रबन्ध किये जाय।
मेला क्षेत्र में मेले से पूर्व फागिंग, मेलार्थियों की पहुॅच के स्थानों पर चिकित्सा शिविर, दरगाह शरीफ के चिकित्सालय को पर्याप्त दवा व चिकित्सकीय सुविधा तथा चौबिसों घण्टे एम्बुलेन्स की व्यवस्था के लिए चिकित्सा विभाग को निर्देशित किया गया। गर्मी के मौसम में साफ-सफाई के कार्य को विशेष प्राथमिकता प्रदान करने का निर्देश देते हुए नगर पालिका परिषद बहराइच व पंचायती राज विभाग को पूरे मेला परिक्षेत्र से कूड़ा उठान तथा पानी के छिड़काव, मेले की ओर जाने वाले मार्गों पर सोलर लाईट इत्यादि के बेहतर प्रबन्ध किये जाने के निर्देश दिये गये। डीएम ने यह भी निर्देश दिया कि सभी प्रकार के हेल्पलाइन नम्बरों को पूरे मेला परिसर में जगह-जगह प्रदर्शित कर दिया जाय। बैठक के दौरान दरगाह प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष सै. शमशाद अहमद एडवोकेट ने दरगाह प्रबन्ध समिति की ओर से की गयी व्यवस्थाओं के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी उपलब्ध करायी।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी रम्या आर, एडीएम गौरव रंजन श्रीवास्तव, अपर पुलिस अधीक्षक नगर रामानन्द कुशवाहा, मुख्य राजस्व अधिकारी देवेन्द्र पाल सिंह, नगर मजिस्ट्रेट शालिनी प्रभाकर, पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर राजीव कुमार सिसोदिया, एसडीएम सदर प्रिंस वर्मा, डीपीआरओ राघवेन्द्र द्विवेदी, एआरएम प्रेम प्रकाश, ईओ प्रमिता सिंह, डीएसओ नरेन्द्र तिवारी, अभिहित अधिकारी विनोद कुमार शर्मा, अधि.अभि. विद्युत शैलेन्द्र कुमार, लोक निर्माण विभाग के अमर सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी तथा दरगाह प्रबन्ध समिति के सदस्यगण मौजूद रहे।

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here