सशस्त्र सेना झण्डा दिवस पर खुले हाथों धनराशि दान करने की डीएम ने की अपील

0
9
Advertisement

बहराइच । शहीद वीर सैनिकों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए प्रत्येक वर्ष 07 दिसम्बर ‘‘सशस्त्र सेना झण्डा दिवस‘‘ के रूप में मनाया जाता है। इस अवसर पर वीर सैनिकों तथा उनके परिवारजनों के कल्याणार्थ धन संग्रह कर कृतज्ञ राष्ट्र शहीद वीर सैनिकों के प्रति अपनी सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित करता है। उल्लेखनीय है कि इस अवसर पर संग्रहीत धनराशि शहीद सैनिकों भूतपूर्व सैनिकों तथा परिजनों के कल्याण एवं पुनर्वास जैसे पुनीत कार्य में उपयोग की जाती है।
सशस्त्र सेना झण्डा दिवस के अवसर पर कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी मोनिका रानी ने सभी अधिकारियों, कर्मचारियों तथा आमजन से अपील की है कि सशस्त्र सेना झण्डा दिवस के अवसर पर अधिक से अधिक धनराशि दान करें। डीएम ने अधिकारियों से अपील की है कि इस बात का प्रयास करें कि विभाग के लिए निर्धारित लक्ष्य से अधिक धनराशि एकत्र की जाय ताकि ऐसे पुनीत कार्य के लिए जनपद का योगदान उल्लेखनीय रहे। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि सशस्त्र सेना झण्डा दिवस के अवसर पर एकत्र की गयी धनराशि जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी के कार्यालय को विलम्बतम् 31 मार्च 2024 तक उपलब्ध कराते हुए कृत कार्यवाही से अवगत भी करायें।
कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित कार्यक्रम में जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी, कर्नल महेश चन्द्र ध्यानी (अ.प्रा.) ने अधीनस्थ कार्मिकों भानु प्रताप गुप्त, नरेन्द्र कुमार, जगदम्बा प्रसाद एवं एन.सी.सी. के कैडेट तथा भूतपूर्व सैनिकों के साथ जिलाधिकारी मोनिका रानी को टोकेन फ्लैग लगाया। डीएम ने वीर सैनिकों तथा उनके परिवारजनों के कल्याणार्थ धनराशि दानकर तथा सशस्त्र सेना झण्डा दिवस की स्मारिका का विमोचन कर धन संग्रह कार्यक्रम का श्रीगणेश किया। कार्यक्रम के दौरान मौजूद अन्य अधिकारियों को टोकेन फ्लैग लगाकर दानपात्र में धनराशि का संग्रहण किया गया। सशस्त्र सेना झण्डा दिवस के प्रति आमजन को जागरूक करने के उद्देश्य से कलेक्ट्रेट से जागरूकता रैली भी निकाली गयी। जागरूकता रैली परशुराम चौक से पीपल तिराहा, रोडवेज़ होते हुए जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास कार्यालय में सम्पन्न हुई।

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here