डीएम के प्रयास व रोटरी क्लब के सहयोग से मंद बुद्धि सुभाष पहुंचा अपने घर  
एमएलसी, डीएम व एसपी ने केन्द्र व राज्य सरकार तथा रोटरी क्लब के प्रति जताया अभार

0
23
Advertisement

बहराइच । तहसील मिहींपुरवा मोतीपुर के निधिपुरवा कुण्डा निवासी मन्द बुद्धि सुभाष चन्द्र पुत्र लक्ष्मण प्रसाद किन्हीं परिस्थितियों में बंगलादेश चला गया था। कुछ माह पूर्व बंगलादेश (ढाका) के रोटरी क्लब द्वारा बहराइच के रोटरी क्लब के अध्यक्ष अनिल सिंघल को सूचना प्राप्त हुई कि बहराइच जनपद के ग्राम निधिपुरवा कुण्डा के युवक सुभाष चन्द्र बंगलादेश में मिला है। प्रकरण की सूचना रोटरी क्लब के पदाधिकारियों द्वारा जिलाधिकारी डॉ दिनेश चन्द्र को दी गयी। जिलाधिकारी डॉ चन्द्र द्वारा गम्भीरता से लेते हुए शासन व भारत सरकार संदर्भित किया गया। शासन व भारत प्रदेश सरकार के सहयोग से युवक को रोटरी क्लब के पदाधिकारियों द्वारा बहराइच लाकर युवक के परिजनों के सुपुर्द किया गया।
कलेक्ट्रेट सभागार में एमएलसी डॉ प्रज्ञा त्रिपाठी, जिलाधिकारी डॉ दिनेश चन्द्र, पुलिस अधीक्षक प्रशान्त वर्मा द्वारा रोटरी क्लब के पदाधिकारियों बहराइच के अध्यक्ष अनिल सिंघल, सचिव आनन्द अग्रवाल, प्रदीप केडिया, रामेश्वर रस्तोगी, सुशील ड्रोलिया, नितिन बंसल, अनिल गोयल, डी.पी. सिंह, सुनील केडिया, कुलभूषण अरोड़ा, आशीष कंछल, राज कुमार लोहिया, दिनेश मण्डोलिया, सुनील कुमार गुप्ता, मनीष मल्होत्रा के साथ मीडिया प्रतिनिधियों के समक्ष युवक के पिता लक्ष्मण प्रसाद व माता श्रीमती सुनीता देवी को कपड़ा, राशन तथा 11 हजार रूपये नगद प्रदान कर युवक को सौपते हुए वाहन से युवक को उसके पैत्रिक निवास रवाना किया गया।
इस अवसर पर इस पुनीत कार्य के लिए एमएलसी डॉ त्रिपाठी ने केन्द्र, राज्य सरकार, जिला प्रशासन तथा रोटरी क्लब के पदाधिकारियों के प्रति आभार व्यक्त किया। जिलाधिकारी डॉ चन्द्र ने कहा कि प्रकरण की सूचना से स्थानीय स्तर पर रोटरी क्लब द्वारा मेरे संज्ञान में लाया गया। मेरे द्वारा प्रकरण को शासन स्तर से सन्दर्भित किया गया। उत्तर प्रदेश व केन्द्र सरकार के सहयोग से तथा रोटरी क्लब के सहयोग से जो अर्न्तराष्ट्रीय संस्था है यहां के स्थानीय पदाधिकारियों द्वारा बंगलादेश के पदाधिकारियों से सम्पर्क स्थापित किया गया था। युवक को बहराइच लाकर युवक के परिजनों को बहराइच बुलाकर सौप दिया गया है। रोटरी क्लब, केन्द्र व उत्तर प्रदेश सरकार की मानवीय संवेदन शीलता का बहुत ही अच्छा संदेश है। मुझे प्रसन्नता है कि मेरे द्वारा इसमें कुछ सहयोग प्रदान किया गया जिससे युवक अपनी जन्म स्थली पर वापस हुआ। उन्होंने कहा कि यद्यपि यह मौखिक रूप से उस स्थिति में नहीं है कि अपने को अभिव्यक्त कर सके। डीएम ने कहा कि बंगलादेश सरकार का आभारी हॅू कि इस बच्चे की देख-भाल के साथ-साथ चिकित्सीय परीक्षण कराते हुए रोटरी क्लब के सहयोग से यहां पर भेजा है। मैं रोटरी क्बल के स्थानीय पदाधिकारियों का आभार व्यक्त करता हॅू कि उन्होंने इस बच्चे को लाने ले जाने के साथ-साथ स्थानीय स्तर पर जो सहयोग हो सकता है कर रहे है। डीएम ने कहा कि पात्रता के अनुसार सरकार द्वारा संचालित योजनाओं से भी लाभान्वित कराया जायेगा। स्थानीय रोटरी क्लब के अध्यक्ष सिंघल ने प्रकरण के सम्बंध में विस्तार से जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर एमएलसी, डीएम व एसपी को रोटरी क्लब द्वारा अंगवस्त्र भेंट कर सम्मानित भी किया गया।

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here