संविधान की प्रस्तावना पर आयोजित भाषण प्रतियोगिता में स्कूल कालेजों के छात्र-छात्राओं ने किया प्रतिभाग

0
6
Advertisement

बाराबंकी। संविधान दिवस पर डा भीमराव अम्बेडकर मेमोरियल सेवा समिति@पार्क-स्मारक अनुरक्षण समिति द्वारा लखपेड़ाबाग के मैरिज लान में संविधान की प्रस्तावना की व्याख्या पर आयोजित भाषण प्रतियोगिता में 21 स्कूल एवं कालेजों के 76 छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग कर संविधान की प्रस्तावना पर उत्कृष्ट विचार व्यक्त किये। प्रतियोगिता का शुभारम्भ पूर्व पुलिस अधिकारी एवं साहित्यकार डा सत्या सिंह ने डा अम्बेडकर के चित्र पर पुष्पांजलि एवं दीपांजलि करके किया। जूनियर, माध्यमिक और स्नातक वर्ग के छात्रों ने संविधान की प्रस्तावना पर भाषण दिए निर्णायक मण्डल सहित स्रोताओं ने जहां खूब तारीफ की वहीं छात्रों एवं शिक्षकों की मेहनत की सराहना की।
प्रतियोगिता में स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को मुख्य अतिथि सांसद उपेन्द्र सिंह रावत व समिति के अध्यक्ष रत्नेश कुमार, महासचिव रामऔतार निर्णायक मण्डल ने माला, मेडल पहनाकर, सम्मान पत्र एवं मोमेंटो भेंटकर सम्मानित किया। प्रतियोगिता में जूनियर वर्ग (कक्षा-3 से 8) की प्रतियोगिता में श्री साईं इण्टर कालेज, शुक्लाई की छात्रा संस्तुति ने प्रथम स्थान तथा चाइल्ड फ्रेण्डली स्कूल की कक्षा-5 की छात्रा प्रियांशी ने दूसारा व इसी स्कूल की छात्रा आराध्या ने तीसरा स्थान प्राप्त किया, इन छात्रों के भाषण से लोग भावुक हो गये। वहीं माध्यमिक वर्ग (कक्षा-9 से 12) की प्रतियोगिता में जीआईसी के कक्षा-12 के छात्र ऋषभ देशमुख ने प्रथम स्थान, आनन्द विहार कान्वेन्ट इण्टर कालेज के कक्षा-10 का छात्र अमन सिंह ने दूसरा स्थान व जीआईसी के कक्षा-12 के छात्र शिवा मौर्य ने तीसारा स्थान प्राप्त किया। वहीं स्नातक वर्ग की प्रतियोगिता में गंगा मेमोरियल गल्र्स डिग्री कालेज की बीए तृतीय की छात्रा प्रतिभा वर्मा ने प्रथम स्थान, इसी कालेज की छात्रा साक्षी जायसवाल व वीणा सुधाकर ओझा महाविद्यालय के छात्र विनय कुमार ने संयुक्त रूप से द्वित्तीय स्थान और लखनऊ विश्वविद्यालय की छात्रा हर्षिता गौतम ने तीसरा स्थान प्राप्त किया।
श्री साईं इण्टर कालेज के छात्र आरव वर्मा, समृद्धि वर्मा, यंग स्ट्रीम एकेडमी की छात्रा खुशी जायसवाल, जमीलुर्रहमान इस्लामिया गल्र्स इण्टर कालेज की छात्रा शिफा खातून एवं जेबा, रामभीख राजरानी शिक्षण संस्थान इण्टर कालेज मुलूकपुर गदिया के छात्र आयुष मौर्या, जीआसी के छात्र प्रभात मिश्रा, जीजीआईसी की छात्रा सुनैना तथा श्री गंगा मेमोरियल गल्र्स डिग्री कालेज की छात्रा प्रियंका जायसवाल व कृतिका वर्मा ने चतुर्थ एवं पांचवां स्थान प्राप्त कर सांत्वना पुरस्कार विजेता रहीं। दिन भर चली इस भाषण प्रतियोगिता के निर्णायक मण्डल में अधिवक्ता एवं लेखक, साहित्यकार इकबाल राही, वीणा सुधाकर ओझा महाविद्यालय के प्राचार्य डा बलराम वर्मा, शिक्षाविद् एमडी आनन्द एवं डा राम सुरेश वर्मा रहे जिन्होंने प्रतिभागियों के भाषणों का मूल्यांकन कर निर्णय दिया।
इस अवसर पर प्रतिभागियों को पुरस्कृत करते हुए सांसद उपेंद्र सिंह रावत ने कहा कि सरकार संविधान के प्रति आस्था और विश्वास रखती है, डा भीमराव अम्बेडकर के योगदान से राष्ट्र अपने विधान से चल रहा है। सरकार ने इसीलिए आज के दिन सभी कार्यालयों, स्कूलों में संविधान की प्रस्तावना का पाठ कराने का निर्णय लिया, और पहली बार ऐसा हुआ है कि सभी स्तर पर लोगों ने संविधान की प्रस्तावना का पाठ किया है। प्रतियोगिता में छात्र-छात्राओं की सहभागिता के लिए स्कूल कालेजों के शिक्षक एवं प्रधानाचार्य जीआईसी के डा राधेश्याम, जीजीआसी की डा नन्दिता सिंह, वीणा सुधाकर ओझा महाविद्यालय से डा बलराम वर्मा, श्री गंगा मेमोरियल गल्र्स डिग्री कालेज से प्राक्टर डा मानसी यादव, श्री साईं इण्टर कालेज से डा रामचन्द्र, चाइल्ड फ्रेण्डली स्कूल से विनोद कुमार, आनन्द विहार से शैलेन्द्र सिंह, कवि शिव कुमार व्यास आदि शिक्षकों का योगदान रहा। प्रतियोगिता का संयोजन समिति के अध्यक्ष रत्नेश कुमार ने किया। प्रतियोगिता सम्पन्न कराने में समिति के महासचिव राम औतार, कोषाध्यक्ष जे०एल० भास्कर, उपाध्यक्ष अमरेश बहादुर, देव कुमार गुप्ता, राजेन्द्र कनौजिया, सचिव मंशाराम कनौजिया, विनोद कुमार, सदस्य कमलेश कुमार, दिनेशचन्द्र रावत, रामप्रगट कनौजिया, केशनलाल, रामदयाल, सियाराम वर्मा, रमेश चैधरी, आनन्द चैधरी, का विशेष योगदान रहा।

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here